काबुल से भारतीयों को लाने के लिए मुहिम तेज, एयर इंडिया के दो विमानों को स्टैंडबाय पर रखने का निर्देश

अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे के बाद बिगड़ती स्थिति को देखते हुए भारतीयों को वापस लाने के लिए केंद्र सरकार ने मुहिम तेज कर दी है। सरकार ने एयर इंडिया को कहा है कि वो काबुल से देश के नागरिकों को निकालने के लिए दो विमानों को स्टैंडबाय पर रखे। भारत सरकार के जानकारों की माने तो एयर इंडिया ने इमरजेंसी ऑपरेशन के लिए एक दल तैयार किया है। काबुल से भारतीयों को लाने के लिए दो विमानों को क्रू सदस्यों के साथ स्टैंडबाय पर रखा गया है। सरकार स्थिति की बहुत करीब से निगरानी कर रही है। हालांकि अभी काबुल के लिए सभी फ्लाइट को रोक दिया गया।

Afghanistan crisis: Air India flight with 129 passengers from Kabul lands  in Delhi

एयर इंडिया पायलट एसोसिएशन ने भी केंद्रीय मंत्री को लिखा पत्र

इससे पहले रविवार शाम काबुल से 129 यात्रियों को लेकर एयर इंडिया की फ्लाइट दिल्ली पहुंची थी। अफगानिस्तान में लगातार बिगड़ती स्थिति के कारण काबुल के हामिद करजई इंटरनेशनल एयरपोर्ट से दुनिया भर की उड़ानें बाधित हुई हैं। रविवार को तालिबान के काबुल पर कब्जे के बाद भारत ने अपने सैकड़ों अधिकारियों और नागरिकों को निकालने के लिए आपात योजना बनाई है। उधर विदेश मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय और एयर इंडिया संपर्क में हैं और अफगानिस्तान की स्थिति पर लगातार निगरानी कर रहे हैं।

भारत ने पूरे मामले पर बना रखी है नजर

उधर दूसरी तरफ भारत ने अफगानिस्तान में हर दिन बदल रहे घटना क्रम पर नजर बनाये रखी है। भारत लगातार शांति से मसले का हल निकालने की बात कर रहा है और इसी का असर है कि तालिबान ने भारत को लेकर बड़ा बयान दिया है। तालिबान ने साफ किया है कि वो भारतीयों के साथ किसी तरह का गलत व्यवहार नहीं करने वाले हैं और ना ही तालिबान में भारत के बनाये गये प्रोजेक्टों को भी कोई नुकसान पहुंचाने वाले हैं। बस भारत किसी तरह की सैनिक गतिविधियां अफगानिस्तान में ना करे। वही भारत इस पूरे मामले में विश्व को साथ में लेकर आगे कि रणनीति तैयार कर रहा है।

फिलहाल इन सब के बीच पहली प्रथमिकता है वहां से भारतीयों को निकालना जिसके लिये तैयारी शुरू कर दी गई है और कुछ लोगों को निकाल भी लिया गया है। ऐसे में आगे भारत की क्या कूटनीति होगी वो आने वाले वक्त में ही पता चल पायेगा।