Budget 2020: सीतारमण के बजट की अब तक की बड़ी बातें

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

लोकसभा में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने मोदी सरकार 2.0 का पहला पूर्ण बजट 2020 (Union Budget 2020) पेश किया। इस साल भी निर्मला सीतारमण ट्रेडमार्क ब्रीफकेस की जगह लाल कपड़े वाले ‘बहीखाता’ के साथ नजर आईं। पीली साड़ी में मोती धागे से बंधा हुआ लाल कपडे में लपेटे हुए बजट पेश करने पहुचीं आज निर्मला सीतारमण।

आईए जानते हैं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के बजट के अब तक क्या क्या बड़े ऐलान किये है :

• 2020-21 में परिवहन अवसंरचना के लिए 1.70 लाख करोड़ रुपये का प्रस्ताव। 2024 तक 100 और हवाईअड्डों को उड़ान योजना के तहत तैयार किया जाएगा।

• भारत को तकनीकी वस्त्रों में अग्रणी बनाने के लिए राष्ट्रीय तकनीकी वस्त्र मिशन का प्रस्ताव। मोबाइल, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, सेमी कंडक्टर पैकेजिंग के विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए योजना।

• ‘स्टडी इन इंडिया’ को बढ़ावा देंगे। गरीब छात्रों के लिए ऑनलाइन डिग्री प्रोग्राम का प्रावधान

• शिक्षा क्षेत्र के लिए 99,300 करोड़ का प्रस्ताव। राष्ट्रीय पुलिस विश्वविद्यालय और राष्ट्रीय न्यायिक विज्ञान विश्वविद्यालय का प्रस्ताव। कौशल विकास के लिए 3 हजार करोड़ का प्रस्ताव।

• 2020-21 में स्वच्छ भारत मिशन के लिए लगभग 12,300 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। जल जीवन मिशन योजना के लिए 11,500 करोड़ का आवंटन।

• स्वच्छ हवा- प्रदूषण से बचने के लिए 4 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान, किए जाएंगे कई उपाय ।

• पर्यटन को चमकाने के लिए बड़ा ऐलान; टूरिज्म बढ़ाने के लिए 2500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

• हमारी सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लिए प्रतिबद्ध है।

• पानी की कमी से जूझ रहे 100 जिलों के लिए व्यापक उपाय किए जाने का प्रस्ताव। कृषि और उससे संबेधित क्रियाकलापों-सिंचाई और ग्रामीण विकास क्षेत्र के लिए 3 लाख करोड़ रुपए का आवंटन।

• 2014-19 के बीच मोदी सरकार की नीतियों की वजह से भारत का FDI बढ़कर 284 बिलियन अमेरिकी डॉलर पर पहुंचा।

• GST से देश आर्थिक रूप से एकीकृत हुआ, इंस्पेक्टर राज खत्म हुआ। 1 अप्रैल 2020 से सरलीकृत नई विवरणी प्रणाली शुरू की जाएगी

• भारत अब दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। केंद्र सरकार का कर्ज घटकर जीडीपी का 48.7 फीसद रह गया जो 2014 में 52.2 फीसद पर रहा था।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •