विधानसभा चुनाव होने से पहले ही भाजपा के तीन प्रत्याशी हुए विजयी

अरुणाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के तीन प्रत्याशी चुनाव होने से पहले ही निर्विरोध निर्वाचित हो गए|

 

BJP_flag
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

प्रदेश में गुरूवार को नाम वापिस लेने की अंतिम तारीख समाप्त होने के साथ ही राज्य की तीन सीटों पर बीजेपी के प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिए गए| गौरतलब है कि प्रदेश में विधानसभा की कुल 60 सीटें जबकि लोकसभा की कुल 2 सीटें है| इस बार प्रदेश की विधानसभा और लोकसभा दोनों ही के लिए चुनाव की तारीख 11 अप्रैल घोषित की गयी है| राज्य में तीन विधायक के निर्विरोध निर्वाचित होने के बाद अब प्रदेश की 60 विधानसभा सीटों में से केवल 57 सीटों पर ही वोट डाले जायेंगे| इस बाबत राज्य के अपर मुख्य चुनाव आयुक्त केगी दरांग ने प्रदेश की राजधानी ईटानगर में इस बात की जानकारी दी है|

दरअसल, राज्य की आलो ईस्ट विधानसभा सीट से बीजेपी के प्रत्याशी केंतो जिनी ने उस समय जीत हासिल कर ली, जब उनके एकमात्र प्रतिद्वंदी और कांग्रेस प्रत्याशी मिनकिर लोल्लेन का नामांकन मंगलवार को अवैध पाया गया। जबकि राज्य के येचुली विधानसभा सीट पर भी बीजेपी प्रत्याशी को र्निविरोध चुन लिया गया|

उपरोक्त दो सीटों के अलावा दिरांग विधानसभा सीट से भी कांग्रेस और एक निर्दलीय प्रत्याशी द्वारा गुरुवार को अपना नाम वापस ले लेने के कारण भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी फुरपा त्सेरिंग निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए गए| तो ऐसे में अब प्रदेश की 57 सीटों पर 191 प्रत्याशी अपना किस्मत आजमा आएंगे| इनमें बीजेपी के 57, कांग्रेस के 47, नेशनल पीपुल्स पार्टी के 30, जेडीयू के 17, जेडीएस के 13 और एई इंडिया पार्टी के एक प्रत्याशी मैदान में हैं| इसके अलावा राज्य में 17 स्वतंत्र उम्मीदवार भी मैदान में हैं| असल में, तीन प्रत्याशियों का निर्विरोध जीत जाना भाजपा के लिए चुनाव से पहले एक सकारात्मक खबर है|