भूमि पूजन से पहले अवध बनी ‘त्रेतायुग की राम नगरी’ 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

रहा एक दिन अवधि कर अति आरत पुर लोग।

जहँ तहँ सोचहिं नारि नर कृस तन राम बियो।।

यानि कि श्री रामजी के लौटने की अवधि का एक ही दिन बाकी रह गया, अतएव नगर के लोग बहुत आतुर हो रहे हैं। राम के वियोग में दुबले हुए स्त्री-पुरुष जहाँ-तहाँ सोच कि जल्द ही राम जी आये, कुछ यही हाल आज अवध में देखा जा रहा है। मंदिर निर्माण का शुभारंभ पीएम मोदी 5 अगस्त को करेगे लेकिन इससे पहले अयोध्यावासी अयोध्या को ऐसे सजा रहे है कि मानो लग रहा हो कि त्रेतायुग में जो कुछ हुआ था वो आज फिर से अवध में हो रहा है।

प्रभू राम के रस में सराबोर अयोध्या  

सगुन होहिं सुंदर सकल मन प्रसन्न सब केर।

प्रभु आगवन जनाव जनु नगर रम्य चहुँ फेर॥

यूं तो इस चौपाई का मतलब है कि भगवान के आगमन पर सब सुंदर शकुन होने लगे और सबके मन प्रसन्न हो गए। नगर भी चारों ओर से रमणीक हो गया। लेकिन गोस्वमी तुलसीदास जी द्वारा लिखे इस दोहे को सजीव देखना है तो वो अवध में आजकल देखने को मिल रहा है। भूमिपूजन से पहले अयोध्या शहर को ऐसे चमका दिया गया है कि इसकी मनोहर छवि देखते ही बनती है। हर सड़क का रंगरोगन किया गया है तो मंदिर परिषद के साथ साथ शहर की कई बड़ी सड़के प्रभू की मनोमोहक तस्वीरो से सजी दिख रही है। सरयू नदी के घाट ऐसे सज चुके है कि जैसे शायद त्रेतायुग में सजे होगे। इसके साथ साथ शहर में दीपक जलाने की भी व्यवस्था की जा रही है। माना जा रहा है कि 5 अगस्त को दिवाली से पहले ही दिवाली देखी जा सकती है।

11 हजार लड्डुओं का लगाया जाएगा भोग

इसी कड़ी में रामलला को भोग लगाने के लिए अयोध्या की मणिरामदास छावनी में एक लाख 11 हजार लड्डुओं को तैयार किया जा रहा है। इन्हें स्टील के डिब्बों में पैक किया जाएगा और अयोध्या व अन्य तीर्थ क्षेत्रों में वितरण किया जाएगा। लड्डू बनाने का काम देवराहा बाबा स्थल से जुड़े अनुयायी कर रहे हैं। अब आप खुद समझ सकते है कि अवध निवासी इस आयोजन को कितना भव्य बनाने वाले है। इसी लिये राममंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी रामनगरी के कोने-कोने में प्रत्यक्षदर्शित हो रही है। खुशी कुछ इस तरह है कि जैसे रामजन्म के समय अयोध्या का उल्लास छलकता है। इसी तरह की स्थिति रामनगरी के संत-धर्माचार्यों की भी है। हालांकि कोरोना के चलते लाखों रामभक्त अयोध्या आकर भूमि पूजन नहीं देख सकते हैं, फिर भी उनके मन में जन्मभूमि में बसी हुई है। अयोध्या वासी लाइव भूमि पूजन देखने की तैयारी में पूरे उत्साह से जुटे हुए हैं।

हरि अनंत हरि कथा अनंता।

कहहिं सुनहिं बहुबिधि सब संता॥

अर्थाथ जिस तरह से भगवान राम कि कथा अनंत है ठीक अयोध्या मे इस वक्त अनंत तरह की तैयारिया चल रही है, राम मंदिर निर्माण के चलते। मानो ऐसा लग रहा है कि प्रभू राम के आने से पहले हर अवधवासी राम के रंग में रंगना चाहता है क्योकि सब जानते है कि राम जी ही करेंगे बेड़ा पार ….


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •