ऑटो चालक की लड़की की उड़ान के संघर्ष की कहानी

तू खुद की खोज में निकल, तू किस लिए हताश है, तू चल… तेरे वजूद को समय को भी तलाश है। कुछ इस बात को साबित किया है उत्तर प्रदेश के एक छोटे शहर में रहने वाली मान्या सिंह ने जो VLCC फेमिना मिस इंडिया (Femina Miss India 2020) 2020 फर्स्ट रनरअप रहीं है लेकिन वो आजकल खबरो में खूब बनी है क्योकि मान्या सिंह एक ऑटो चालक की बेटी होने के बाद इतने आगे तक अपने संघर्ष के चलते आई है। 

वो संघर्ष जिसने दिलाई पहचान 

मान्या सिंह की लाइफ प्रतियोगिता में भाग लेने वाले अन्या प्रतिभागियों से काफी अलग और कठिनाईयों भरा रहा था। उनके पिता एक ऑटो रिक्शा चालक हैं। वहीं उनका बचपन कई तरह की मुश्किलों में गुजरा है। मान्या की माने तो उन्होने भोजन और नींद के बिना कई रातें बिताई हैं। उनके पास कई मीलों तक चलने के लिए पैसे नहीं होते थे। उन्होने खून, पसीने और आंसुओं ने सपनों को आगे बढ़ाने के लिए साहस जुटाया है। ऑटो रिक्शा चालक की बेटी होने के नाते, मुझे कभी स्कूल जाने का अवसर नहीं मिला क्योंकि मुझे अपनी बचपन में ही काम करना शुरू करना था। मेरी मां के पास मेरी परीक्षा की फीस भरने के लिए पैसे नहीं थे जिसकी वजह से उन्होंने अपने गहने तक गिरवी रख दिए थे और हमेशा पैशन को फॉलो करने के लिए कहा। मेरी मां ने मेरे लिए बहुत कुछ झेला है।’

पिता का भी मिला भरपूर साथ

इतना ही नही मान्या सिंह आज ये भी कहती है कि पिता ने भी कभी उनके ख्वाब को नही कुचला, वो भी हमेशा हौसला बढ़ाते रहे। हां, ये जरूर है कि उन्होने हमेशा बोला कि ईमानदारी से उठाये गये कदम से हमेशा सफलता मिलती है जो आज मान्या सिंह को मिली है। इतना ही नही उन्होने बताया कि पहले उनके पिता को और उन्हे समाज के कई लोगों ने ताने भी मारे लेकिन पिता, मां औऱ भाई ने विश्वास दिलाया कि अगर खुद पर विश्वास होगा तो जरूर एक न एक दिन सफलता हासिल होती है। आज वही दिन मुझे दिख रहा है रनरअप रहकर भी जीती हुई महसूस कर रही हूं। दूसरी तरफ एक ऑटो चालक ने अपनी बेटी को आगे बढ़ाने के लिये उसकी हौसला अफजाई की ये एक बड़ी बात है जो ये बताती है कि आज जमाना बदल रहा है और छोटे से छोटे लोग बी अपनी बेटी के सपनो को कुचलने की बजाये उसे पूरा करने के लिये लगे हुए है।

मान्या सिंह का ये किस्सा वैसे तो फिल्म बनाने वालों को खूब भायेगा और हो सकता है कि उसके संघर्ष पर फिल्म भी बन जाये लेकिन ये कहानी इतना तो बताती है कि सच में जिसके अंदर सच और साहस होता है जीत उसे ही मिलती है…..