बिहार: वैशाली में गृह मंत्री अमित शाह की सभा आज, तैयारियां पूरी

गृह मंत्री अमित शाह
गुरुवार को यहां गृह मंत्री अमित शाह के आगमन और उनकी सभा की सारी तैयारियां अंतिम चरण में हैं। तैयारियों को लेकर सभा स्थल को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है। वैशाली में गुरुवार को गृहमंत्री अमित शाह के आगमन को लेकर सभा स्थल और मंच को अंतिम रूप देने में सैकड़ों मजदूर दिन-रात जुटे हैं । सभा में बड़ी संख्या में लोगों के जुटने की उम्मीद है। इसी को लेकर सुरक्षा, ट्रैफिक कंट्रोल और अन्य आवश्यक व्यवस्थाएं की गई हैं।

गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय और हाजीपुर के विधायक अवधेश सिंह इसकी देखरेख में लगे हुए हैं। मंच का निर्माण नए लुक में किया गया है। मंच को पूर्ण रूप से बिहार के ग्रामीण क्षेत्र में उपज रहे बांस, फूस, मूंज एवं नारियल की रस्सी से किया जा रहा है। बिना तामझाम एवं कृत्रिम सामान के उपयोग के ही मंच को आकर्षक तरीके सजाने संवारने का कार्य जारी है।

वैशाली स्थित ऐतिहासिक विश्व शांति स्तूप का लुक मंच के ऊपर गुंबद को दिया गया है। वैशाली की सभी सडकें, मुख्य सड़क एवं ग्रामीण सड़कों पर दर्जनों की संख्या में तोरण द्वार बनाए गए हैं। सभा स्थल के प्रांगण में ही हैली पैड का निर्माण कराया गया है। बुधवार को हैली पैड पर हेलीकॉप्टर लैंड कराकर पूर्वाभ्यास कराया गया। हैलीकॉप्टर से वैशाली में एनएसजी कमांडर गृहमंत्री की सुरक्षा के लिए बुलाए गए हैं। भाजपा द्वारा सभा को ऐतिहासिक बनाने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

कमिश्नर, आईजी, डीएम और एसपी ने सुरक्षा प्रबंधों को देखा
सुरक्षा व्यवस्था में कहीं से कोई चूक नहीं हो, इसके लिए पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। हेलीपैड से मंच तक कारकेट द्वारा पूर्वाभ्यास किया गया है। तिरहुत प्रक्षेत्र के कमिश्नर, आईजी गणेश कुमार, वैशाली जिला पदाधिकारी उदिता सिंह, एसपी गौरव मंगला, एएसपी सूर्यकान्त सिंह सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया। मुजफ्फरपुर से पटना और हाजीपुर जानेवाली बडी गाड़ियों का मार्ग बदला गया है । वैशाली होकर बड़ी गाडियां इस दौरान नहीं चलेंगी।

अमित शाह एक घंटे 20 मिनट तक रुकेंगे वैशाली में
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के वैशाली आगमन पर जिला प्रशासन ने वैशाली में सुरक्षा की चाक -चौबंद व्यवस्था की है। सभा स्थल सहित वैशाली के आसपास के क्षेत्रों में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा बलों की तैनाती कर दी गई है। वे करीब एक घंटे 20 मिनट तक वैशाली में रहेंगे। जिला प्रशासन ने 124 मजिस्ट्रेट और 800 से अधिक पुलिसकर्मियों की ड्यूटी कार्यक्रम को देखते हुए लगाई है। बुधवार की शाम कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में उप विकास आयुक्त विजय प्रकाशा मीणा की अध्यक्षता में गृह मंत्री की सभा में सुरक्षा में लगाए गए मजिस्ट्रेट और पुलिसकर्मियों के साथ ज्वाइंट ब्रिफिंग हुई। इस दौरान डीडीसी ने सभी कर्मियों को निर्धारित प्वाइंट पर समायानुसार योगदान करने का निर्देश दिया। सुरक्षा के दृष्ठिकोण से चौकस रहने का निर्देश दिया।

समारोह स्थल पर वीआईपी और वीवीआईपी क्षेत्र की गैलरी में जांच के बाद ही प्रवेश देने का निर्देश दिया गया है। साथ ही संदिग्ध व्यक्तियों की गहन जांच करने का निर्देश जारी किया गया है। किसी प्रकार की सूचना अपने वरीय अधिकारी को शीघ्र कम्यूनिकेट करने का सुझाव दिया गया। मजिस्ट्रेट और पुलिस पदाधिकारियों को सुरक्षा संबंधी कुछ खास निर्देश दिए गए।

गृहमंत्री करीब सवा घंटे रुकेंगे वैशाली में
केंद्रीय गृह मंत्री गुरुवार को भगवान महावीर की जन्मस्थली एवं बुद्ध की कर्मस्थी व प्रजातंत्र की जननी वैशाली में लगभग एक घंटे बीस मिनट तक रुकेंगे। इस पवित्र भूमि को नमन करेंगे। यहां के ऐतहासिक स्थलों के बारे में जानेंगे। इसी के साथ पार्टी की ओर से आयोजित जन सभा को संबोधित करेंगे। सीएए और एनआरसी के समर्थन मे विचार व्यक्त करेंगे। गृह मंत्री हवाई मार्ग से दिन के एक बजे वैशाली पहुंचेंगे। खैराना हेलीपैड पर हेलीकाप्टर से उतरने के बाद सीधे समारोह स्थल पर वे पहुंचेंगे। वहां जन सभा को वे संबोधित करेंगे। लगभग एक घंटा पांच मिनट तक मंच पर रहेंगे। 02 बजकर 20 मिनट पर हवाई मार्ग से वापस लौट जाएंगे।

हेलीपैड से सभा स्थल तक कड़ी सुरक्षा
केंद्रीय गृह मंत्री हवाई मार्ग से आएंगे। वैशाली में खरौना पोखर के समीप हेलपैड का निर्माण कराया गया है। जिला प्रशासन ने हेली पैड पर सुरक्षा का कड़ा प्रबंध किया है। हेली पैड से लेकर सभा स्थल तक मजिस्ट्रेट और पुलिस बलों की जगह-जगह तैनाती की गई है। डीएम उदिता सिंह और एसपी सुरक्षा व्यवस्था की स्वयं मॉनिटरिंग करेगी। ज्वाईंट ब्रिफिंग में जिला स्तर के वरीय अधिकारियों के अलावा गृह मंत्री की सभा में सुरक्षा व्यवस्था में ड्यूटी पर जाने वाले पदाधिकारी और पुलिसकर्मी शामिल थे। इस ज्वाईट ब्रिफिंग के बाद 125 मजिस्ट्रेट और 700 पुलिसकर्मी वैशाली के लिए रवाना हो गए।

ड्रोन कैमरे से नहीं होगी फोटोग्राफी
जिला प्रशासन ने सुरक्षा के मद्देनजर सभा में ड्रोन कैमरे से फोटोग्राफी पर प्रतिबंध लगा दिया है। ड्यूटी पर तैनात मजिस्ट्रेटों और पुलिस कर्मियों को इसका कड़ाई से अनुपालन करने का निर्देश दिया गया है। साथ ही सभा के बाद निकलने वाली भीड़ पर विशेष नजर रखने और अफरा-तफरी की स्थिति उत्पन्न नहीं होने देने का भी निर्देश दिया गया है।

Originally published at https://www.livehindustan.com/