एयर इंडिया वन बनकर तैयार, जमीन से आकाश तक होगी पीएम मोदी की अभेद्द सुरक्षा

जिस तरह से मोदी जी देश का मान विश्व में बढ़ा रहे हैं, उनके दुश्मन भी देश विदेश में बढ़ते जा रहे हैं। ये बात बिलकुल सच है कि कई आतंकी संगठनों की हिट लिस्ट में मोदी जी का नाम सबसे ऊपर है। इसलिए इनकी सुरक्षा के लिये चाक चौबंद व्यवस्था की गई है। अब दुश्मन जमीन के साथ हवा में भी उनका बाल बांका नही कर सकता है। क्योंकि मोदी जी की सुरक्षा जमीन के साथ अब हवा में भी अभेद्य होने जा रही है। क्योंकि पीएम नरेंद्र मोदी के लिए सुपरजेट ‘एयर इंडिया वन’ अमेरिका में बनकर तैयार हो गया है। माना जा रहा है कि इसी महीने एयर इंडिया वन विमान को भारत को सौंप दिया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी के इस ‘सुपर जेट’ में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की तरह से सुरक्षा उपाय किए गए हैं। यह एक तरह से हवा में ‘उड़ते किले’ की तरह से है।

सुपरजेटएयर इंडिया वन की खासियत

पीएम मोदी को ले जाने के लिए एयर इंडिया के नए बोइंग 777-300 विमान को पिछले दिनों खरीदा गया था। इस विमान में सुरक्षा के लिहाज से अब काफी बदलाव किए गए हैं। भारत ने देशी ‘एयरफोर्स वन’ के लिए अमेरिका के साथ 1,300 करोड़ रुपये की डील की थी। इसके तहत दो सेल्‍फ प्रोटेक्‍शन सूट खरीदे गए हैं। पीएम मोदी का ये हाईटेक  बोइंग-777 विमान पूरी तरह से एकीकृत मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम से लैस है। इसमें ऐसे खास सेंसर लगे हैं जो मिसाइल हमले की तत्‍काल सूचना दे देंगे। इसके बाद डिफेंसिव इलेक्‍ट्रानिक वॉरफेयर सिस्‍टम ऐक्टिव हो जाएगा। इस डिफेंस सिस्‍टम में इंफ्रा रेड सिस्‍टम, डिजिटल रेडियो फ्र‍िक्‍वेंसी जैमर आदि लगे हुए हैं। यह सुविधाएं कुछ उसी तरह से होंगी जैसे अमेरिकी राष्‍ट्रपति के प्‍लेन में लगी हुई हैं। यहां ये भी बता दे कि ये प्लेन 26 साल पुराने बोइंग की जगह लेगा।

 

900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ेगा एयर इंडिया वन

जिस तरह से पीएम मोदी की स्पीड भारत के विकास के लिए सुपर फास्ट है वैसे ही अब उनके बोइंग की रफ्तार भी सुपर फास्ट होगी। क्योंकि अब ये करीब 900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकेगा। तो करीब 30 हजार फीट की ऊंचाई छू सकेगा। अमेरिका के बाद भारत एक ऐसा देश होगा जिनके पीएम और राष्ट्रपति को इस तरह की सुविधा उपलब्ध होगी। इस बात से ये अंदाजा लगाया जा सकता है कि भारत का रुतबा विश्व में किस तरह का है।

वैसे जिस देश के दो पीएम आंतकियों के द्वारा मारे गये हों उस देश को पीएम राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिये इस तरह के कदम उठाना जायज है क्योंकि इसी के चलते वो महफूज रह सकते हैं और देश को आगे ले जाने के लिये गति दे सकते हैं।