धारा 370 हटने के बाद कश्मीर में लगातार दहशतगर्दों का हो रहा सफाया

 कश्मीर की आवाम अब खुद देख रही है कि कैसे सूबे के विकास के लिए मोदी सरकार लगातार काम कर रही है। तो कश्मीर के लोग खुलकर आजाद होकर काम कर सके इसके लिये दहशतगर्दों का भी काम तमाम कर रही है। इस बाबत सरकार ने लोकसभा में रखे आंकड़े साफ बताते है कि धारा 370 हटने के बाद किस तरह से कश्मीर इस तरह से आतंक से मुक्त होकर विकास के रास्ते पर चल रहा है।

Jammu and Kashmir to open for tourists from July 14 in phased manner, guidelines released | Latest News India - Hindustan Times

धारा 370 हटने के बाद 439 आतंकवादी मारे गए

विपक्ष जो हर बार ये पूछता है कि कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद क्या बदला है तो वो इस सवाल का जवाब आज सुन जान लें। बजट सत्र में प्रश्नकाल के दौरान गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने बताया कि जम्मू-कश्मीर  में बड़ी संख्या में आतंकियों का सफाया किया गया है। उन्होंने बताया, जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटने के बाद 439 आतंकवादी मारे गए। इस दौरान 98 नागरिक और 109 सुरक्षाकर्मी भी मारे गए और 541 आतंकवादी घटनाएं हुईं जो ये बताती है कि कश्मीर से आतंकियों की दहशत अब धीरे धीरे कम होती जा रही है और लगातार आंतकियों को सेना या तो गिरफ्तार कर रही है या फिर मुठभेड़ में उन्हे ढ़ेर कर रही है।

बजट में कश्मीर के लिए 35,581.22 करोड़ रुपये

तो दूसरी तरफ राज्य में तेज विकास के लिये मोदी सरकार कश्मीर को लगातार फंड भी मोहइया करवा रही है। इसी क्रम में जम्मू कश्मीर को 2022-23 के लिए 35,581.22 करोड़ रुपये आवंटित किये गये हैं जबकि 2021-22 में आवंटन 34,704.46 करोड़ रुपये था, वहीं लद्दाख को चालू वित्त वर्ष के समान 5,958 करोड़ रुपये का आवंटन किया गया है। जम्मू कश्मीर के लिए बजट में 33,923 करोड़ रुपये का आवंटन केंद्रीय सहायता के रूप में किया गया है। 273 करोड़ रुपये डल नगीन झील के पुनर्वास के लिए अनुदान के तौर पर आवंटित किये गये हैं और 279 करोड़ रुपये केंद्रशासित प्रदेश आपदा मोचन कोष में अनुदान के रूप में दिये गये हैं। इसके साथ साथ तेजी से सड़क मार्ग और रेल मार्ग के कामों को किया जाये इसका भी ध्यान रखा गया है। वही निवेश सूबे में बढ़े इसका भी ध्यान रखा जा रहा है।

लगातार कश्मीर के दिन बदल रहे है और वो अब दिखने भी लगा है। तभी तो आज लालचौक पर खुले मन से तिरंगा लहराता है तो हर कश्मीरी के दिल से भारत माता की जय का नारा सुनाई देता है।