कोरोना से जुड़ी एक अच्छी खबर, जनवरी तक आ जायेगी देशी वैक्सीन

कोरोना वायरस से चल रही लंबी लड़ाई के बीच बीते 8 महीने से जिस शुभ समाचार की प्रतीक्षा पूरा देश कर रहा था आज वो शुभ समाचार आपको हम देते है। साल 2020 की सबसे बड़ी खबर ये है कि कोरोना के खिलाफ जनवरी तक भारत की अपनी वैक्सीन होगी यानी सिर्फ डेढ़ महीने बाद भारत कोरोना वैक्सीन के मामले में आत्मनिर्भर हो जाएगा।

जनवरी तक स्वदेशी वैक्सीन होगी उपलब्ध

वैसे कोरोना से जारी लड़ाई में देश की जनता ने कोरोना को कभी भी हावी नही होने दिया है कुछ राज्यो को छोड़ दिया जाये तो देश में कोरोना उतना भंयकर रूप नही अपना पाया जितना की दूसरे मुल्कों में देखा गया। वही अब देश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन एक अच्छी खबर लेकर आये है। उनका दावा है कि जनवरी तक देश में कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन आ चुकी होगी। इतना ही नही उन्होने बताया कि जून-जुलाई तक देश के 30 करोड़ लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी जाएगी यानी 7 महीने बाद देश के 30 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन मिल जाएगी। स्वास्थ मंत्री ने ये भी साफ किया की पहले ये वैक्सीन स्वास्थ कर्मियो और बुजुर्ग लोगो को लगाई जायेगी। बता दें कि देश में एक दिन में कोविड-19  के 45,576 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमण के मामले बढ़कर 89.58 लाख हो गए। वहीं 83.83 लाख से अधिक लोगों के संक्रमण मुक्त होने के साथ ही देश में मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 93.58 फीसदी हो गई है। वही कोरोना से होने वाली मौतों की दर भी दुनिया के देशों को देखते हुए भारत में सबसे कम है।

कोरोना वारियर्स का सम्मान

एक तरफ कोरोना को रोकने के लिये सरकार ने कई बड़े कदम उठाये तो दूसरी तरफ वैक्सीन बनाने के लिये अतिरिक्त फंड की व्यवस्था की तो तीसरी तरफ कोरोना महामारी से दूसरो की जान बचाते हुए जिन कोरोना वारियर्स ने अपनी जान गवाई उनका भी पूरा सम्मान किया। इसी क्रम में अब केंद्र सरकार ने ऐलान किया है कि जिन कोरोना वारियर्स की जान इस दौरान गई है उनके घर के बच्चो को अब MBBS और BDS 2020-21 के सत्र सहित अन्या मेडिकल पाठ्यक्रमों में एडमिशन के लिए को आरक्षण दिया जाएगा। बता दें मोदी सरकार लगातार कोरोना वारियर्स के प्रति प्रबद्धता दर्शाती आ रही है। पीएम नरेंद्र मोदी खुद कोरोना योद्धाओं का सम्मान करने की अपील कर चुके हैं। केंद्र सरकार ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले कोरोना योद्धाओं को 50 लाख रुपए की बीमा राशि भी दे रही है। इसके अलावा कुछ राज्यों ने अलग से बीमा भी करवाया है।

वैसे तो कोरोना महामारी से निपटने में मोदी सरकार की तारीफ WHO से लेकर UN और कई मुल्क कर चुके हैं और होना भी चाहिये क्योकि मोदी सरकार ने वो कर दिखाया है जो विश्व के तमाम दिग्गज देश न कर सके।

Leave a Reply