गरीबों की परेशानी को बखूबी जानते हैं पीएम मोदी! लॉन्च होने के एक सप्ताह के भीतर फ्री गैस कनेक्शन के आए 60 लाख आवेदन

10 अगस्त को पीएम मोदी ने उत्तर प्रदेश के महोबा में Ujjwala Yojana 2.0 को लॉन्च किया था. इसके तहत 1 करोड़ फ्री गैस कनेक्शन बांटे जाएंगे. महज एक सप्ताह में 60 लाख आवेदन आ चुके हैं.

पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उज्ज्वला योजना 2.0 को लॉन्च किया था. 10 अगस्त को लॉन्चिंग के बाद से महज एक सप्ताह के भीतर अब तक 60 लाख नए गैस कनेक्शन के आवेदन आ चुके हैं. 2016 में जब इस योजना को पहली बार लॉन्च किया गया था तब प्रधानमंत्री ने कहा था कि गरीब मां- बहनों को अब धुएं से आजादी मिलेगी. छह साल गुजर जाने के बावजूद पीएम मोदी को इस बात का अहसास था कि अभी भी करोड़ों गरीब परिवार गैस सिलिंडर की सुविधा से वंचित है.

 

यही वजह है कि 1 फरवरी 2021 को बजट में सरकार ने ऐलान किया कि चालू वित्त वर्ष (2021-22) में Ujjwala 2.0 के तहत 1 करोड़ नए फ्री गैस कनेक्शन बांटे जाएंगे. उज्ज्वला स्कीम के दूसरे चरण के तहत प्रवासी मजदूरों को नए गैस कनेक्शन के लिए राशन कार्ड या ऐड्रेस प्रूफ की जरूरत नहीं होगी. इन एक करोड़ अतिरिक्त PMUY Connections (उज्ज्वला 2.0 के तहत) का उद्देश्य कम आय वाले उन परिवारों को जमा-मुक्त LPG Connection प्रदान करना है, जिन्हें पीएमयूवाई के पहले चरण के तहत शामिल नहीं किया जा सका था.

 

मई 2016 में जब इस स्कीम को लॉन्च किया गया था तब इसे 5 करोड़ BPL कैटिगरी के परिवारों के बीच बांटने का फैसला किया गया था. अप्रैल 2018 में इस लक्ष्य को बढ़ाकर 8 करोड़ कर दिया गया था. इसके साथ-साथ सात अन्य कैटिगरी को भी शामिल करने का फैसला किया गया था. सात कैटिगरी के अंतर्गत SC/ST, PMAY, AAY, मोस्ट बैकवर्ड क्लास, टी गार्डन, फॉरेस्ट ड्वेलर्स और आइसलैंड को शामिल किया गया था. उज्ज्वला योजना को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने 9 अगस्त को एक ट्वीट किया था जिसमें उन्होंने कहा, इस स्कीम के पहले चरण को मई 2016 में लॉन्च किया गया था. अगस्त 2019 में हमने लक्षित समय से सात महीने पहले 8 करोड़ गैस कनेक्शन बांटने का काम पूरा किया.

 

Ujjwala 2.0 के लाभान्वित परिवारों को पहली बार भरा हुआ गैस सिलेंडर और स्टोव फ्री में मिलेगा. इसके अलावा एनरोलमेंट प्रॉसेस को ज्यादा आसान और कम पेपरवर्क वाला रखा गया है. माइग्रेंट वर्कर्स को इसका लाभ उठाने के लिए राशन कार्ड या ऐड्रेस प्रूफ जमा करने की जरूरत नहीं होगी.

 

Ujjwala Scheme के पहले चरण में सरकार LPG कनेक्शन के लिए 1600 रुपए (डिपॉजिट मनी) की आर्थिक सहायता देती थी. इस योजना के तहत गैस कनेक्शन पाने वाले परिवार स्टोव और सिलेंडर के लिए बिना ब्याज के लोन भी ले सकते थे. दूसरे चरण में LPG कनेक्शन के अलावा पहले सिलेंडर की रीफिलिंग भी फ्री होगी. इसके अलावा गैस चूल्हा भी मुफ्त में दिया जाएगा. अप्रैल 2018 में सरकार ने योजना के लाभार्थियों का दायरा बढ़ाते हुए 7 और कैटेगरी की महिलाओं को भी योजना में शामिल किया था. अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो नजदीकी एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर से संपर्क करें. इसके अलावा pmuy.gov.in पर लॉगिन कर सकते हैं.