31 अक्टू्बर से इंडिया गेट पर शुरू होगा 4 दिवसीय ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ महापर्व

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

India Gate| PC - Holidify

केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) 31 अक्टूबर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की महत्वाकांक्षी पहल एक भारत श्रेष्ठ भारत को चरितार्थ करते हुए इंडिया गेट लॉन में चार दिवसीय ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ महापर्व का आयोजन करने जा रहा है। यह कार्यक्रम आमतौर पर तीन दिन का होता था, लेकिन पहली बार यह चार दिनों का हो रहा है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक

कार्यक्रम का उद्घाटन केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक करेंगे। देश के सभी केंद्रीय विद्यालयों के दो हजार से अधिक विद्यार्थी और शिक्षक इसमें शामिल होंगे।

केवीएस के आयुक्त संतोष कुमार मल्ल ने सोमवार को कहा कि पिछले वर्ष की तुलना में ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ महापर्व का आयोजन व्यापक स्तर पर किया जा रहा है।

31 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे से 3 नवम्बर को सायं चार बजे तक चलने वाले इस पर्व में केवीएस के सभी 25 संभागों में स्थित एक हजार 226 स्कूलों में छठी से बारहवीं में पढ़ने वाले विद्यार्थी भाग लेंगे। इसमें शिक्षक भी संगीत एवं कला संगम के माध्यम से अपनी भूमिका निभाएंगे।

पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष के महापर्व की विशेषता के संबंध में पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उद्घाटन और समापन कार्यक्रम में `शोभा यात्रा` के नाम से एक सांस्कृतिक परेड निकलेगी।

इसे सांस्कृतिक ट्रेन का नाम दिया जा सकता है। असल में इस पूरे आयोजन में सभी विद्यार्थियों को अपने मूल राज्य से अलग दूसरे राज्य का भाषायी, साहित्यिक और सांस्कृतिक आधार पर अध्ययन करना होता है।

सांस्कृतिक परेड की प्रतियोगिता में सभी संभागों के बच्चों को आवंटित राज्य की संस्कृति की झलक पेश करने के लिए केवल एक मिनट का समय मिलेगा।

केवीएस आयुक्त संतोष कुमार मल्ल ने कहा कि महापर्व में देश की सांस्कृतिक छठा देखने को मिलेगी। कार्यक्रम में एक राष्ट्र के लिए चार अलग-अलग थीम होंगी। पहले दिन की थीम फिट इंडिया, दूसरे दिन समग्र शिक्षा जल सुरक्षा, तीसरे दिन सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध और चौथे दिन की थीम स्वच्छ भारत सुंदर भारत रखी गई है।

महापर्व में शामिल होन वाले विद्यार्थियों के लिए उक्त चारों थीमों के आधार पर 28 प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। इसमें साहित्य उत्सव, हिंदी-अंग्रेजी चर्चा, संस्कृत श्लोक वाचन, हिंदी काव्य पाठ, सृजनात्मक लेखन, कहानी कथन, भाषा संगम, प्रदशर्नियां, पेंटिंग, समूह नृत्य और एक भारत-श्रेष्ठ भारत पर क्विज मुख्य है।

केवीएस आयुक्त संतोष कुमार ने भारत को एकता में अनेकता का संदेश देने वाला देश बताया और आयोजन का उद्देश्य भारत की व्यापक सांस्कृति को समझना है। उत्तर में जम्मू कश्मीर से लेकर दक्षिण में कन्याकुमारी तक, पश्चिम में जामनगर और पूर्व में नगालैंड तक में संस्कृति की विविध झलक देखने को मिलती है। इस कार्यक्रम के माध्यम से यह सब एक स्थान पर देखना संभव होगा, वो भी वहां के मूल निवासियों द्वारा नहीं बल्कि दूसरे राज्यों के विद्यार्थियों द्वारा प्रदर्शन अपने आप में आश्चर्यचकित करने वाला होगा।

केवीएस के आयुक्त संतोष कुमार मल्ल ने सभी लोगों से आह्वान किया है कि वे इस पर्व में अवश्य पहुंचें और छात्रों का उत्साहवर्धन करें। इसमें सभी का प्रवेश निशुल्क है।

 


  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •