100 साल के ऐसे बुजुर्ग वोटर, जिन्होंने अब तक के सारे चुनाव में डाला वोट

india_voting_today

आज लोकसभा चुनाव के पहले चरण में देश के 20 राज्यों की 91 सीटो पर लोकतंत्र का महापर्व मनाया जा रहा है| आज के चुनाव से कई दिग्गजों के किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएँगी| गर्मी होने के बावजूद दोपहर 1 बजे तक बड़ी तादाद में लोग वोट देने अपने घर से निकल कर बहार आ रहे है| हर बढ़ते वोट परसेंटेज के साथ एक बात सुनिश्चित हो रही है कि लोग लोकतंत्र के इस महापर्व में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर रहे है| ऐसे में हमने सोचा की क्यों न आपको आज एक ऐसे शख्सियत से रूबरू करवाया जाये, जो एक ऐसे मतदाता रहे जिन्होंने साल 1952 से लेकर लगातार देश के हर चुनाव में अपने मताधिकार का उपयोग किया|

दरअसल, हम बात कर रहे है 100 साल के वी संथानम के बारे में| संथानम ने साल 1952 से प्रत्येक लोकसभा चुनाव में अपने मताधिकार का प्रयोग किया था| वी संथानम ने 1946 में मुंबई में ब्रिटिश भारत में अपना पहला वोट डाला था। वहीं साल 2019 में भी वे नोएडा के एक पोलिंग बूथ पर मतदान करने पहुंचे थे। हालाँकि, 100 साल के वी संथानम जैसे देश के कई हिस्से में कई बुजुर्ग हैं जो आज भी अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं| गौरतलब है कि, 15 अगस्त 1947 को आजाद होने और 26 जनवरी 1950 को संविधान के अस्तित्व में आने के बाद साल 1952 में भारत का पहला आम चुनाव सम्पन्न हुआ था

अमूमन, हर चुनाव में हमें देश के अलग-अलग हिस्सों में रहने वाले कई ऐसे व्यक्ति के बारे में जानने को मिल ही जाता है, जिनकी कहानी रोचक होती है| लेकिन रोचक कहानियों के मुकाबले वी संथानम की कहानी गंभीर है| उनको जानने वाले बताते है कि उन्होंने अपने जीवन में असल में एक जिम्मेदार नागरिक की भूमिका अदा की है| आगे उनको जानने वाले जोड़ते है कि, ये मुमकिन है की वो हर चुनावो में अलग-अलग दलों या नेताओ को वोट करते हो लेकिन उनका हमेशा से ये मानना रहा था कि हमारा वोट हर मायने में अहम है| हमारे वोट करने और न करने से एक बहोत बड़ा अंतर पैदा होता है| उनका मानना था की हमारे एक वोट से यह तय होता है की देश आने वाले दिनों में किस दिशा और दशा में अग्रसर होगा| मुमकिन है कि यही वह वजह रही होगी कि संथानम हर चुनाव में अपने घर से निकलते और पोलिंग बूथ पर पहुँच कर अपने मताधिकार का उपयोग करते|

women_voters

बहरहाल, मालूम हो कि 2019 के इस लोकसभा चुनाव में सात चरण में वोटिंग की प्रक्रिया संपन्न होनी है। जिसके तहत पहले चरण में वोटिंग गुरुवार (11 अप्रैल) को हो रही है जबकि आखिरी चरण में 19 मई को मतदान होगा। वही लोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को घोषित किये जायेंगे। पहले चरण के तहत आज हो रहे वोटिंग के दौरान उत्तर प्रदेश की 8 सीटें, बिहार की 4 सीटें और महाराष्ट्र की 7 सीटें भी शामिल हैं|

बता दें की पहले चरण के मतदान के तहत सबसे ज्यादा आंध्रप्रदेश की 25 और तेलंगाना की 17 सीटें मौजूद है| वही इसके अलावा उत्तराखंड की 5, छत्तीसगढ़ की 1, पश्चिम बंगाल की 2, अरुणाचल की 2, असम की 5, जम्मू-कश्मीर की 2, मणिपुर की 1, मेघालय की 2, मिजोरम की 1, नागालैंड की 1, ओडिशा की 4, सिक्किम की 1, त्रिपुरा की 1, अंडमान की 1 और लक्षद्वीप की 1 लोकसभा सीटो पर वोट डाले जा रहे है|