राम मंदिर, बेरोजगारी से लेकर एयर स्ट्राइक तक, प्रधानमंत्री मोदी के इंटरव्यू की 10 बड़ी बातें

Modi_on_ABP_interview_2019

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने हाल ही में हिंदी न्यूज चैनल एबीपी न्यूज को साक्षात्कार दिया है|

दिए गए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री ने रोजगार, सुरक्षा, राम मंदिर सरीखे कई मुद्दों पर अपना पक्ष सामने रखा है| इसके अलावा उन्होंने कांग्रेस के घोषणापत्र का जिक्र कर उसे निशाने पर लिया है| साथ ही पीएम मोदी ने बालाकोट एयरस्ट्राइक पर सबूत को लेकर उठ रहे सवालों पर भी अपनी बात रखी है| आइये प्रधानमंत्री द्वारा साक्षात्कार में कही गयी 10 बड़ी बातो को जानते है:

1. एयर स्ट्राइक के मसले पर पीएम मोदी ने कहा, ‘’सबसे बड़ा सबूत पाकिस्तान ने स्वयं ने ट्वीट करके दिया दुनिया को दिया| हमने तो कोई दावा नहीं किया था| हम तो अपना काम करके चुप बैठे थे| पाकिस्तान ने कहा कि आए हमको मारा| फिर उन्हीं के लोगों ने वहां से बयान दिया| इस सारे में कितने मरे| कितने नहीं मरे| मरे कि नहीं मरे| ये जिसको विवाद करना है करते रहें| अगर हमने सेना पर कुछ किया होता या नागरिकों पर कुछ किया होता तो पाकिस्तान दुनियाभर में चिल्लाकर भारत को बदनाम कर देता| तो हमारी रणनीति ये थी कि हम गैर सैनिक एक्टिविटी करेंगे और जनता का कोई नुकसान ना हो इसका ध्यान रखेंगे| ये पहला हमारा मूलभूत सिद्धांत था और हम टार्गेट आंतकवाद को ही करेंगे| एयरफोर्स ने जो करना था अपना बहुत सफलतापूर्वक काम किया|’’

2. रोजगार के सवाल पर प्रधानमंत्री ने कहा कि, मुद्रा योजना के अंदर 17 करोड़ लोगों को बिना गारंटी लोन मिला, उसमें से चार करोड़ 25 लाख लोग ऐसे हैं, जिनको पहली बार मिला है| इसका मतलब कि उस पैसों से उसने कारोबार शुरू किया है| उसने कारोबार शुरू किया है तो किसी एक दो लोगों को और उसने काम दिया है| आप इसको रोजगार मानेंगे कि नहीं मानेंगे|

3. कश्मीर में गठबंधन करने और बाद में तोड़ लेने के सवाल पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि, जब हम हमने गठबंधन किया तब मुफ्ती मोहम्मद सईद थे। गठबंधन मिलावटी साबित हुआ। हमने सरकार चलाने की कोशिश की। महबूबा जी के काम करने का तरीका अलग है। हमारा मत था कि जम्मू-कश्मीर में स्थानीय निकाय के चुनाव होने चाहिए। पंचायतों को पैसे दिए जाने चाहिए। वे नहीं चाहते थे कि पंचायतों की ताकत बढ़े। उन्होंने डर पैदा करने की कोशिश की कि चुनाव होने पर हत्याएं होंगी। इसके बाद हम अलग हो गए। हमारी कोशिश थी कि गठबंधन में अच्छा करें।

Pm_modi_2019_Interview_on_ABP

4. पुलवामा हमले के वक्त शूटिंग करने के विवाद को लेकर पीएम मोदी ने कहा, ‘’पुलवामा की घटना मुझे पहले से पता थी क्या? मेरा तो रूटीन कार्यक्रम था उत्तराखंड में, कुछ चीजें ऐसे होती हैं जिसका हैंडल करने का तरीका होता है|”

5. राम मंदिर के सवाल पर जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, हमारे लिए संविधान सबसे ऊपर है। जब मामला न्यायिक प्रक्रिया में हो तो सरकार के नाते हमने अपना पक्ष रखा है। हम चाहते हैं कि जल्द ही मामला सुलझे। सभी चाहते हैं कि राम मंदिर जल्दी बने।

6. लोकसभा चुनाव 2019 में सत्ता विरोधी लहर है या नहीं? इसके जवाब में पीएम मोदी ने कहा, ‘’मैं एंटी इंकमबेंसी इस चुनाव में नहीं देख रहा हूं| मैं पहली बार देख रहा हूं कि प्रो इंकमबेंसी वेव है, लहर है| मैं भी तो जनता में जाकर आता हूं| मैं हिंदुस्तान के करीब 70 प्रतिशत राज्यों में पिछले सात दिनों में होकर आया हूं| मैं कल सुबह अरुणाचल से शुरू किया था पासीघाट से और रात को महाराष्ट्र के गोदिया में पूरा करके लेट नाइट दिल्ली आया था| मैं जनता के बीच में रहने वाला इंसान हूं| मैं देख रहा हूं कि प्रो- गवर्मेंट लहर, ये अपने आप में हिंदुस्तान के लोकतंत्र में एक खुशनुमा पल है|’’

7. इस बार के लोकसभा चुनाव में उत्तरप्रदेश में भाजपा के जीत के संभावनाओ के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा ”जहां तक मेरा भ्रमण हुआ है उसके आधार पर मैं कहता हूं कि भारतीय जनता पार्टी का अपना टैली पहले से बहुत बढ़ेगा| हमारे जो एनडीए के साथी हैं उनका भी टैली पहले की तुलना में बहुत बढ़ेगा और एक बहुत बड़ी ताकत के साथ इस बार देश की जनता हमें सेवा करने का मौका देगी|”

8. गुजरात के बाहर बनारस को ही क्यों चुना? इस सवाल पर पीएम मोदी ने कहा, ‘’संगठन जो तय करे वो मैं करता हूं तो उस समय संगठन के लोगों को लगा कि मुझे बनारस जाकर चुनाव लड़ना चाहिए| डॉ. मुरली मनोहर जोशी जी ने वहां काफी अच्छा काम किया हुआ था| जोशी जी का आशीर्वाद था और पार्टी ने तय किया था तो मैं चला गया था|’’

9. संविधान की धारा 124 (ए) पर पीएम मोदी ने कहा, ‘’भारत जैसा देश विविधता भरा देश है| तमिलनाडु मेंन्यूक्लियर पावरप्लांट को लेकर वहां पर आंदोलन चला| यही कांग्रेस पार्टी ने 6000 से ज्यादा लोगों को देशद्रोह के कानून में अंदर किया| आज वो दुनिया को उपदेश दे रहे हैं, क्योंकि किसी ने लिख के दे दिया और आपने वहां आकर बोल दिया| आप चाहते हैं कि देश के टुकड़े होंगे जैसी बातों को बल मिलता रहे? आप ये चाहेंगे कि भारत के तिरंगे झंडे को कोई रौंद दे और भारत के राष्ट्रगान का अपमान करता रहे? बाबा साहेब अंबेडकर की मूर्ति कोई जाकर तोड़ दे?’’

10. राजद्रोह के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा कि‘’जो लोग राष्ट्रद्रोह की प्रवृत्ति करते हैं उन पर राजद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए| न्यायपालिका है हमारी उस पर भरोसा करना चाहिए, वो दूध का दूध और पानी का पानी कर सकते हैं| ये राजद्रोह को राष्ट्रदोह कह रहे हैं या राजद्रोह को बदले की भावना से कर रहे हैं, हमारी न्यायपालिका व्यवस्थाएं हैं, अगर कानून ही नहीं होगा तो आप करेंगे क्या? ‘’